ads

मतगणना के बाद सीएम कमलनाथ की कुर्सी के चारों पाये हिलने वाले हैं: अमित शाह

मतगणना के बाद सीएम कमलनाथ की कुर्सी के चारों पाये हिलने वाले हैं: अमित शाह
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर भाजपा कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया और चेतावनी देते हुए कहा कि 23 मई को मतगणना के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ की कुर्सी के चारों पाये हिलने वाले हैं।
रीवा के गोविन्दगढ़ में शनिवार को एक चुनावी सभा में शाह ने कहा, ''कान खोल कर सुन लो कमलनाथ। अगर आप चाहते हो, आप मानते हो कि इस प्रताड़ना से भाजपा के कार्यकर्ता दब जाएंगें, डर जाएंगे, तो मैं आपको कहने आया हूं, भाजपा के अध्यक्ष के नाते...ये भाजपा के कार्यकर्ता हैं, अगर हमारे कार्यकर्ता को प्रताड़ित करने का प्रयास किया तो तेरी सरकार की ईंट से ईंट बजाने का काम ये भाजपा की सरकार करेगी।
शाह ने आगे कहा कि क्या समझते हो, आप। लोकतंत्र के अंदर भाजपा के कार्यकताओं को दबाकर आप चुनाव जीतेंगे? 23 मई को मतगणना होने दो, आपकी कुर्सी के चारों के चारों स्तम्भ हिलने वाले हैं। चारों के चारों। और कमलनाथ याद रखना, मैं आज बताने आया हूं। आप मुझे गाली दे दो, कोई दिक्कत नहीं है। मोदी जी का सौ गाली दे दो, कोई दिक्कत नहीं है। भाजपा के कार्यकर्ताओं को प्रताड़ना दी तो उसका जवाब देने के लिये भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता सामने आएगा। लोकतंत्र के अंदर विरोधी दलों को दबाने का कांग्रेस का जो संस्कार है, अब नहीं चलने वाला।
प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर भाजपा कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा, ''हाल के दौरों में मैंने भाजपा कार्यकर्ताओं की आपबीती सुनी। चुनाव में लगे भाजपा कार्यकर्ताओं को जिला बदर किया गया, कुछ पर हत्या के प्रकरण लगाए गए और दो कार्यकर्ताओं की हत्या भी हो गयी।
उत्तर प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर प्रतिबंधित संगठन स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट आफ मूवमेंट (सिमी) को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए भाजपा प्रमुख ने कहा, ''एक जमाना था। ये मध्यप्रदेश का मालवा क्षेत्र सिमी का अड्डा बना हुआ था। शिवराज सिंह चौहान (पूर्व मुख्यमंत्री) ने सिमी के अड्डे मालवा क्षेत्र से सिमी का पूरा नेटवर्क तितर-बितर करने का काम किया। सिमी वालों को मध्यप्रदेश छोड़कर भागना पड़ा। कोई अहमदाबाद की जेल में, कोई दिल्ली की जेल में है, कोई भोपाल की जेल में है।
उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस सरकार आयी और अपनी वोटबैंक की राजनीति के कारण फिर एक बार सिमी को बढ़ावा देने का काम ये सरकार कर रही है। शाह ने कहा, ''मैं उनको चेताना चाहता हूं। राष्ट्र की सुरक्षा, मध्यप्रदेश के नागरिकों की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ मत करिए। हाथ जल जाएंगे। भाजपा इनके हर कदम का डटकर विरोध करने वाली है। 
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मध्यप्रदेश विधानसभा चुनावों में मिले जनमत को हमने स्वीकार किया लेकिन तीन माह में कांग्रेस सरकार की असफलता सामने आ गयी। उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबी लोगों पर पड़े आयकर छापे में 281 करोड़ रुपये की संपत्ति का खुलासा हुआ है। उन्होंने सवाल किया कि यदि तीन माह में इतना है तो शेष बचे 55 माह में कितना होगा।

No comments