ads

चुनाव नहीं आसान /रामटहल चौधरी के बेटे रणधीर और फुरकान के बेटे इरफान की अग्निपरीक्षा

पिता के लिए लोकसभा चुनाव में टिकट की लगातार मांग करने व दबाव बनानेवाले इरफान अंसारी और रणधीर चौधरी की इस चुनाव में अग्निपरीक्षा पक्की है। कांग्रेस के विधायक इरफान अंसारी के साथ-साथ उनके पिता फुरकान अंसारी और रणधीर चौधरी की निष्ठा परिवार के साथ रहेगी या पार्टी के साथ, यह बड़ा सवाल है। रणधीर चौधरी भाजपा के रांची से सांसद रामटहल चौधरी के पुत्र हैं अाैर रामटहल काे टिकट नहीं मिलने पर फिलहाल वे बागी हाे गए हैं। साथ ही रणधीर चौधरी रांची जिला ग्रामीण भाजपा के अध्यक्ष भी हैं।

फुरकान के बेटे इरफान अंसारी और उनकी बेटी शबाना। (फाइल फोटो)
दोनों नेता मजधार में, परिवार संग जाएं या पार्टी के प्रति निष्ठा निभाएं 
रणधीर रांची ग्रामीण भाजपा अध्यक्ष पर बड़ा सवाल...किसका करेंगे प्रचार

रणधीर के पिता रामटहल चौधरी ने भाजपा के विरोध में रांची से चुनाव लड़ने की घोषणा की है। वे 17 अप्रैल को नामांकन करेंगे। भाजपा ने रांची से संजय सेठ को उम्मीदवार बनाया है। अब ग्रामीण जिला भाजपा अध्यक्ष होने के नाते रणधीर किसके नामांकन में शामिल होंगे या प्रचार करेंगे। हालांकि रांची के ग्रामीण क्षेत्र रणधीर के नियंत्रण में है। इस लिहाज से रांची ग्रामीण से जुड़े संगठन को संजय सेठ से जोड़ना आसान नहीं है। हालांकि रणधीर अभी शांत हैं।

बदला परिदृश्य...इरफान की एक तरफ बहन तो दूसरी तरफ पार्टी

गोड्डा में लाख प्रयास के बाद भी कांग्रेस ने फुरकान को टिकट नहीं दिया। यहां से झाविमो के प्रदीप यादव महागठबंधन के प्रत्याशी हैं। पिता के लिए विधायक पुत्र इरफान अंसारी ने काफी जोर लगाया। अब फुरकान की पुत्री शबाना गोड्डा से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है। इससे इरफान मझधार में फंसे हैं। 

No comments