ads

पाक के सामने बड़ी मुसीबत, अमेरिका ने F16 उड़ाने पर लगाई कड़ी फटकार

पाक के सामने बड़ी मुसीबत, अमेरिका ने F16 उड़ाने पर लगाई कड़ी फटकार
पाकिस्तान को बुधवार सुबह भारतीय वायु सीमा में अमेरिकी एफ 16 युद्धक विमान के जरिए प्रवेश करना महंगा पड़ सकता है। हालांकि इस घुसपैठ की कोशिश को भारत ने पहले ही नाकाम कर दिया है। इस हमले में भारतीय वायु सेना के वीर जांबाजों ने त्वरित कार्रवाई कर पाकिस्तान के एक F-16 युद्धक विमान को मार गिराया। उसके दूसरे F-16 युद्धक विमान को भी खदेड़ने के चक्कर में भारत का एक मिग 2000 भी पाक अधिकृत कश्मीर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया।
लेकिन इस बीच अमेरिका ने पाकिस्तान को हड़काते हुए यह सवाल पूछा है कि बिना उससे पूछे उसने F-16 युद्धक विमानों का उपयोग किया कैसे ? दरअसल, पाकिस्तान को F-16 युद्धक विमान अमेरिका से मिले हैं। अमेरिका ने कहा है कि बिना उसकी अनुमति के पाकिस्तान इन लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल नहीं कर सकता। अमेरिका का कहना है कि पाकिस्तान को जब अमेरिका ने F-16 युद्धक विमान दिए थे , तो उस वक्त पाकिस्तान को यह साफ हिदायत दी गई थी कि बिना अमेरिकी अनुमति के वह उन अमेरिकी विमानों का पारंपरिक युद्ध में उपयोग नहीं कर सकता है।
इसके पहले अमेरिका ने पाकिस्तान को दो टूक शब्दों में कहा है कि वह सैन्य कार्रवाई के जरिए स्थिति को जटिल न बनाए और अत्यधिक संयम बरते। अमेरिका ने पाकिस्तान से आतंकियों पर कार्रवाई करने के लिए भी कहा है। भारत के लड़ाकू विमानों ने मंगलवार तड़के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े आतंकी प्रशिक्षण केंद्र पर हमला किया था। इस हमले में 350 आतंकी मारे गए थे।
यह सर्वविदित है कि अमेरिका ने अपने हथियारों के इस्तेमाल पर नियम कड़े कर दिए हैं। भारतीय वायु सीमा का उल्लंघन करने में पाकिस्तान ने F-16 युद्धक विमान का इस्तेमाल किया है , लेकिन अब अमेरिका ने स्पष्ट कर दिया है कि बिना उसकी अनुमति के पाकिस्तान उसके लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल सैन्य कार्रवाई में नहीं कर सकता। अमेरिका का कहना है कि F-16 युद्धक विमान का इस्तेमाल आत्मरक्षा में किया जा सकता है लेकिन हमले के लिए नहीं।
बता दें कि अमेरिका अपने हथियारों के इस्तेमाल पर सख्त नियम रखता है। नियमों के मुताबिक उसके द्वारा दिए गए हथियारों का इस्तेमाल देश स्थिति को जटिल बनाने एवं खुद को आक्रामक दिखाने के लिए नहीं कर सकते।
इस बीच पाकिस्तान पर दबाव बढ़ाते हुए भारत सरकार ने इसके हाई कमीशन को तलब कर कड़ी फटकार लगाई है और उसके जरिए पाकिस्तान को आदेश दिया है कि जिस मिग पायलट को पाकिस्तान अपने कब्जे में होना बता रहा है, उसे जल्द से जल्द भारत को सौंपे।

No comments